Cronavirus

चीन में फैला हुआ कॅरोना वायरस जो कि एक खतरनाक रूप में आया हैं, अब अपने भारत मे भी फैल रहा हैं इसलिए बचाव ही उपचार हैं, आने वाले 90 दिनों तक आईसक्रीम, कुल्फी, सभी प्रकार की कोल्ड ड्रिंक्स, सभी प्रकार के प्रिज़र्वेटिव फूड्स, डिब्बा बंद भोजन, मिल्क शेक, कच्चा बर्फ यानी गोला चुस्की, मिल्क शेक या मिल्क स्वीटनर 48 घंटे पुराने खाने से बचे, तेज़ गर्मी यानी 35℃ से ज्यादा होने तक रुके क्योंकि ये वायरस 35℃ से ज्यादा तापमान पर मर जाता हैं। सूचना सभी मिलने वालों से शेयर करे और बचाव रखे।

कोरोना वायरस विषाणुओं के परिवार का है और इससे लोग बीमार पड़ रहे हैं. यह वायरस ऊंट, बिल्ली तथा चमगादड़ सहित कई पशुओं में भी प्रवेश कर रहा है
कोरोना से प्रभावित व्यक्ति के लक्षण?
कोरोना वायरस से पीड़ित व्यक्ति को लगातार छींक आती है, जिससे पीड़ित की एक नाक से हमेशा पानी आता रहता है. कोरोना से संक्रमित व्यक्ति में खांसी, बुखार, गले में खराश, सांस फूलने और थकान के लक्षण पाए जाते हैं.
कोरोना वायरस का इलाज 

इस वक्त कोरोना वायरस का कोई इलाज नहीं है। एंटीबायोटिक दवाएं वायरस से नहीं लड़तीं, इसलिए इनका उपयोग व्यर्थ है। हालांकि, एंटीवायरल ड्रग्स काम आ सकते हैं, लेकिन नए वायरस को समझने और उसका समाधान निकालने में कई साल लग जाते हैं।

अभी तक कोरोना वायरस से निजात पाने के लिए कोई वैक्सीन भी उपलब्ध नहीं है। इस वायरस के इलाज के लिए वैक्सीन बनाने का काम वैज्ञानिक कर रहे हैं।

#cronavirus #cronaviruschina #cronavirusindia

source

You may also like...